सुकन्या समृद्धि योजना क्या है - Sukanya Samriddhi Scheme Details in Hindi

Sukanya Samriddhi Yojana 2019 - सुकन्या समृद्धि योजना का उद्देश्य बेटियों की पढ़ाई और उनकी शादी पर आने वाले खर्च को आसानी से पूरा करना है। योजना के अंतर्गत बेटी की पढ़ाई व शादी के लिए डाक विभाग के पास ‘सुकन्या समृद्धि योजना’ का अकाउंट खुलवाया जा सकता है।

सुकन्या समृद्धि योजना क्या है - Sukanya Samriddhi Scheme Details in Hindi

10 साल से कम उम्र की बच्ची के लिए उच्च शिक्षा और शादी के लिए बचत करने के लिहाज से केंद्र सरकार की सुकन्या समृद्धि योजना SSY एक अच्छी निवेश योजना है. निवेश के इस विकल्प में पैसे लगाने से आपको इनकम टैक्स बचाने में भी मदद मिलती हैजो लोग शेयर बाजार के जोखिम से दूर रहना चाहते हों और फिक्स्ड डिपॉजिट FD में गिरते ब्याज दर से परेशान हों, SSY उनके लिए बेहतरीन कदम साबित हो सकती है.

किसे मिलेगा SSY का फायदा?

  • अगर आपकी बेटी की उम्र 10 साल तक है तो आप सुकन्या समृद्धि योजना SSY के तहत अकाउंट खोल सकते हैं.
  • आप अधिकतम दो बेटियों के नाम SSY खाता खुलवा सकते हैं.
  • अगर दूसरी बेटी के जन्‍म के समय जुड़वा बेटी हो तो तीसरा SSY खाता भी खुलवा सकते हैं
  • SSY के तहत खाता सिर्फ भारतीय नागरिक का खोला जा सकता है, अप्रवासी भारतीय SSY में खाता नहीं खोल सकते. अगर खाता खोलने के बाद गर्ल चाइल्ड किसी और देश में चली जाती है और वहां की नागरिकता ले लेती है तो नागरिकता लेने के दिन से SSY खाते में जमा रकम पर ब्याज मिलना बंद हो जायेगा.

कैसे खोलें SSY खाता?

  • SSY अकाउंट किसी पोस्ट ऑफिस या कमर्शियल ब्रांच में खोला जा सकता है.
  • SSY Account opening form
  • बच्‍ची का Photo
  • बच्‍ची का birth certificate
  • बच्ची के माता-पिता या अभिभावक का id proof  पैन कार्ड), राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट )
  • बच्ची के माता-पिता या अभिभावक के address proof (पासपोर्ट, राशन कार्ड, बिजली बिल, टेलीफोन बिल, पानी का बिल)
  • Minimum 250 to maximum 1.5 lakh rupees for account opening

SSY खाते में रकम जमा कैसे होगी? SSY खाते में रकम कैश, चेक, डिमांड ड्राफ्ट या किसी भी तरीके से जमा करा सकते है जिसे बैंक स्वीकार करता हो. इसके लिए रकम जमा करने वाले का नाम और एकाउंट होल्डर का नाम लिखना जरूरी है. अगर SSY खाते में रकम चेक या ड्राफ्ट से चुकाई गयी तो रकम खाते में क्लियर होने के बाद उस पर ब्याज दिया जायेगा, जबकि ई-ट्रांसफर के मामले में डिपॉजिट के दिन से यह गणना की जाएगी.

SSY में कितनी रकम जरूरी?: SSY एकाउंट खोलने के लिए 250 रुपये काफी हैं, लेकिन बाद में 100 रुपये के गुणक में पैसे जमा कराये जा सकते हैं. किसी एक वित्त वर्ष में कम से कम 250 रुपये जरूर जमा कराया जाना चाहिए. किसी एक वित्त वर्ष में SSY खाते में एक बार या कई बार में 1.5 लाख रुपये से अधिक जमा नहीं कराया जा सकता.  SSY खाते में रकम खाता खोलने के दिन से 15 साल तक जमा कराया जा सकता है.

SSY में रकम जमा नहीं हो पाई तब? किसी अनियमित SSY अकाउंट में जहां कम से कम रकम जमा नहीं हुई है, उसे 50 रुपये सालाना की पेनाल्टी देकर नियमित कराया जा सकता है. इसके साथ ही हर साल के लिए कम से कम जमा कराई जाने वाली रकम भी SSY अकाउंट में डालनी पड़ेगी. अगर पेनल्टी नहीं चुकाई गयी तो SSY खाते में जमा रकम पर पोस्ट ऑफिस के सेविंग एकाउंट के बराबर ब्याज मिलेगा जो अभी करीब चार फीसदी है. अगर SSY खाते पर ब्याज ज्यादा चुका दिया गया है तो उसे रिवाइज किया जा सकता है.

SSY अकाउंट ट्रांसफर: SSY अकाउंट देशभर में कहीं भी ट्रांसफर हो सकता है, अगर खाताधारक SSY खाता खोलने की मूल जगह से कहीं और शिफ्ट हो गया हो. SSY अकाउंट ट्रांसफर फ्री ऑफ कॉस्ट है, हालांकि इसके लिए एकाउंट होल्डर या उसके माता-पिता/अभिभावक के शिफ्ट होने का सबूत दिखाना पड़ेगा

SSY एकाउंट मैच्योर कब होगा? सुकन्या समृद्धि योजना का खाता 21 साल में mature हो जाता है। maturity के बाद पैसा लड़की के खाते में ही जाएगा। खाते के 21 साल पूरे होने के बाद ब्याज मिलना बंद हो जाता है। इसलिए अच्छा है कि खाते के मेच्योर होते ही पैसा निकाल लें।

आप 21 साल से पहले पैसा निकाल तो सकते हैं लेकिन पूरा पैसा निकालने की छूट नहीं है। बल्कि आप maximum 50% ही निकाल सकते हैं। ये 50% भी पिछले वित्त वर्ष के balance का होना चाहिए। यानी अगर जनवरी 2018 में पैसा निकाल रहे हैं तो अधिकतम राशि 31 मार्च 2017 के बैलेंस का 50% होगी। premature withdrawal सिर्फ लड़की की शादी या education के लिए ही संभव है।

शिक्षा के लिए निकासी - Get Money for Education

सरकार ने इस योजना में लड़की की education के लिए पैसा निकालने की सुविधा दी है। इसके तहत निम्नलिखित शर्तें हैं।

  • पैसे की जरूरत higher education के लिए होना चाहिए। दसवीं के बाद की पढ़ाई के लिए
  • लड़की की age  minimum 18 साल की होनी चाहिए या फिर उसने दसवीं पास कर लिया हो।
  • उच्च शिक्षा का proof देना होगा। शैक्षिक संस्थान की fees receipt या फिर कोई अन्य प्रमाण देना होगा। प्रमाण से पता चलना चाहिए कि कितने पैसे की जरूरत है।
  • पैसा lump sum या फिर installments में मिल सकता है। एक साल में एक ही बार पैसा मिलेगा। और अधिकतम पांच साल तक किस्त में पैसा ले सकते हैं।

शादी के वक्त खाता बंद करने की सुविधा-Account Closure At the Time Marriage

अगर लड़की की शादी के लिए पैसे की जरूरत हैं तो आप वक्त से पहले account close कर सकते हैं। पहले ये सुविधा शादी होने की बाद ही मिलती थी लेकिन अब अगर आप शादी करने जा रहे हैं तब भी खाता बंद कर सकते हैं। खाता बंद होने पर पूरा balance और interest मिल जाएगा। इसके लिए भी कुछ शर्ते हैं।

  • शादी के वक्त लड़की की उम्र 18 साल से ऊपर होनी चाहिए।
  • खाता बंद करने की अर्जी तभी दे सकते हैं जब शादी को एक महीने या उससे कम रह जाए। शादी होने को तीन महीने बाद तक भी खाता बंद किया जा सकता है।

लड़की की मृत्यु पर निकासी - Withdrawal After Girls’ Death

अगर लड़की की असामयिक मृत्यु हो जाती है तो माता-पिता को तुरंत पूरा पैसा और ब्याज मिल जाता है। इसके लिए लड़की का death certificate पेश करना होगा।

लड़की एनआरआई हो जाती है तो? सुकन्या समृद्धि योजना सिर्फ निवासी भारतीय नागरिकों  (resident India Citizen) के लिए है। अगर लड़की खाता खुलवाने के बाद अनिवासी भारतीय बन जाती है उसका खाता बंद मान लिया जाएगा (deemed closed)। लड़की या उसके माता-पिता को लड़की के NRI बनने के एक महीने के अंदर information देनी होगी। NRI बनने की तारीख के बाद से खाते पर ब्याज नहीं मिलेगा। लड़की के माता-पिता उस पैसे को तुरंत निकाल सकते हैं।

डिस्क्लेमर: पूरी जानकारी के लिए आप SSYस्कीम बनाने वाली अथॉरिटी से बात कर सकते हैं. SSYकी जानकारी मौजूद नियमों के हिसाब से है, इसमें किसी बदलाव के लिए हमारी जिम्मेदारी नहीं है.